कैसिनो चश्मा

कैसिनो चश्मा

time:2021-09-26 15:25:35 कैसिनो चश्मा Views:4591

यूईएफए चैंपियंस लीग बास्केटबॉल कैसिनो चश्मा ★ yabo official site at www.22bet99.com; easy to remember URL is www.99bet99.com .महामारी से 90% भारतीय खर्च को लेकर सतर्क : सर्वे

सर्वे के अनुसार, भारतीय अपना खर्च डिजिटल तरीके से अधिक करना चाहते हैं.
मुंबई : कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के साथ रोजगार और आर्थिक रिकवरी को लेकर अनिश्चितता पैदा हो रही है. इसका असर खर्च पर भी दिख रहा है. एक सर्वे में देश में 10 में से 9 लोगों ने इसको लेकर चिंता जताई है. उन्‍होंने आने वाले समय में खर्च को लेकर सतर्कता बरतने की बात कही है.

ब्रिटेन के स्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक ने इस संदर्भ में वैश्विक स्तर पर एक सर्वे किया है. बैंक ने कहा, ''सर्वे में 90 फीसदी भारतीय प्रतिभागियों ने कहा कि महामारी ने उन्हें खर्च को लेकर सतर्क बना दिया है.''

सर्वे के अनुसार, 76 फीसदी भारतीय प्रतिभागी यह महसूस करते हैं कि महामारी ने उन्हें अपने खर्चों के बारे में सोचने को मजबूर किया है. वहीं, वैश्विक स्तर पर ऐसा सोचने वाले लोगों का प्रतिशत 62 है. यह बताता है कि भारतीय ज्यादा सतर्क हैं.

इसे भी पढ़ें : फॉरेन ट्रैवल के लिए विदेशी मुद्रा खरीदने का क्‍या तरीका है?

इसमें कहा गया है कि 80 फीसदी या तो बजट बनाने वाले साधनों का उपयोग कर रहे हैं या फिर ऐसे उपाय कर रहे हैं जिसमें एक सीमा के बाद उनके कार्ड से खर्च पर रोक लग जाए. सर्वे के अनुसार, भारतीय अपना खर्च डिजिटल तरीके से अधिक करना चाहते हैं. 78 फीसदी भारतीय प्रतिभागियों ने कहा कि वे 'ऑनलाइन' खरीदारी पसंद करेंगे जबकि वैश्विक औसत लगभग दो तिहाई है.

महामारी के पहले की तुलना में भारत समेत दुनिया भर में ग्राहक अब किराना सामान, स्वास्थ्य और डिजिटल उपकरणों जैसी बुनियादी वस्तुओं पर खर्च कर रहे हैं. उनका मानना है कि आने वाले समय में यह ट्रेंड बढ़ेगा.

गैर-जरूरी खर्च हुए कम
सर्वे में 64 फीसदी भारतीयों ने कहा कि उन्होंने महामारी से पहले की तुलना में यात्रा/अवकाश पर खर्चों में कटौती की है. वैश्विक स्तर पर भी यह प्रतिशत 64 है. वहीं, 56 फीसदी भारतीयों ने (वैश्विक स्तर पर 55 फीसदी) कपड़ों पर कम खर्च किए.

सर्वे के अनुसार, भारत में यह ट्रेंड बना रहेगा. 41 फीसदी का कहना है कि वे यात्रा/अवकाश पर कम खर्च करेंगे. जबकि 28 फीसदी ने कहा कि कपड़ों पर उनका खर्च कम होगा.

इसे भी पढ़ें : रिलायंस जियो लाएगी 4,000 रुपये का स्‍मार्टफोन

कैसे किया गया सर्वे?
इस ऑनलाइन सर्वे को 12,000 लोगों के बीच किया गया. इसमें 12 देशों के बाजार शामिल हैं. इनमें ब्रिटेन, हांगकांग, भारत, इंडोनेशिया, केन्या, चीन, मलेशिया, पाकिस्तान, सिंगापुर, ताइवान, संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका आते हैं.

यह सर्वे तीन हिस्सों में जारी किया जाना है. अभी दूसरा हिस्सा जारी किया गया है. सर्वे में इस बात का पता लगाया गया कि कैसे महामारी ने जीवन जीने के तरीकों में बदलाव लाया है और आने वाले समय में क्या बदलाव बना रह सकता है.

पहला सर्वे जुलाई में किया गया था. उसमें इस बात पर गौर किया गया था कि महामारी से आय पर क्या असर हुआ है. सर्वे में यह बात भी सामने आई कि अब लोग ज्यादा खरीदारी ऑनलाइन करना पसंद कर रहे हैं. महामारी से पहले केवल 54 फीसदी भारतीयों ने 'ऑनलाइन' खरीदारी को तरजीह दी. लेकिन, अब यह बढ़कर 69 फीसदी हो गया है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

खर्च पर असरकोरोना की महामारीभारतीय खर्च को लेकर सतर्कसर्वेस्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक

ETPrime stories of the day

Relief package for telecom sector: Centre greases the wheels of telcos, but how far can they go?
Telecom

Relief package for telecom sector: Centre greases the wheels of telcos, but how far can they go?

12 mins read
Spotify is cementing its place in India’s crowded audio-streaming market. What is it playing next?
OTT

Spotify is cementing its place in India’s crowded audio-streaming market. What is it playing next?

11 mins read
How Evergrande could turn into China’s Lehman Brothers
Under the lens

How Evergrande could turn into China’s Lehman Brothers

16 mins read
पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
महामारी से 90% भारतीय खर्च को लेकर सतर्क : सर्वे

नयी दिल्ली, 25 सितंबर (भाषा) कर्नाटक के सहकारिता मंत्री एस टी सोमशेखर ने शनिवार को केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह को इस साल नवंबर-दिसंबर के दौरान आयोजित होने वाले राज्य स्तरीय सहकारी सम्मेलन के मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया। राष्ट्रीय राजधानी में यहां पहले राष्ट्रीय सहकारी सम्मेलन में भाग लेने आए सोमशेखर ने इस संबंध में केंद्रीय मंत्री को एक ज्ञापन सौंपा। उन्होंने पत्र में कहा कि सम्मेलन सहकारी संस्थानों के विकास को बढ़ावा देने के मुद्दों, अवसरों, योजनाओं और प्रस्तावों पर गहन चर्चा के लिए एक प्रभावी मंच मुहैया कराएगा। मंत्री ने कहा कि कर्नाटक ने सहकारिता

ये कंपनियां भी बढ़ा रही हैं अपने वाहनों के दाम, जनवरी से हो जाएंगे महंगे

नयी दिल्ली, 25 सितंबर (भाषा) भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष रविकांत गर्ग ने शनिवार को कहा कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में विभिन्न किसान संगठनों द्वारा 27 सितंबर को किए गए भारत बंद के आह्वान का कोई औचित्य नहीं है।उन्होंने भारत बंद के आह्वान को किसानों एवं व्यापारियों के हितों के विरुद्ध तथा देश की प्रगति में बाधक बताया। एक बयान में गर्ग ने दावा किया, ‘‘देश के 20 करोड़ से अधिक उद्यमी, व्यापारी, कारोबारी, छोटे उद्यमी, दुकानदार और रेहड़ी- पटरी वालों

पंजाब का जीएसटी बकाया चुकाने के लिए अतिरिक्त प्रयास किए गये: सीतारमण

नयी दिल्ली 23 सितंबर (भाषा) वित्त मंत्रालय अगले सप्ताह वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में भारत की सॉवरेन रेटिंग में सुधार का आग्रह करेगा। मंत्रालय कोविड-19 महामारी के कारण बुरी तरह प्रभावित भारतीय अर्थव्यवस्था में उम्मीद से अधिक तेज गति के सुधार को देखते हुए अपनी बात रखेगा। सूत्रों ने बताया कि नियमित प्रक्रिया के तहत हर साल वैश्विक रेटिंग एजेंसियों के साथ मंत्रालय की बैठक होती है। कुछ महीने पहले फिच के साथ एक बैठक हुई थी और अब अगले सप्ताह मूडीज के प्रतिनिधियों के साथ मंत्रालय की बैठक होगी। उन्होंने बताया कि इस

सरकार ने 56 ‘सी-295’ सैन्य परिवहन विमानों की खरीद के लिए एयरबस के साथ किया बड़ा सौदा

शॉपिंग सेंटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन अमिताभ तनेजा ने कहा कि मॉल में लोगों ने दोबारा आना शुरू कर दिया है. फुटफॉल कोरोना से पहले के 60 फीसदी तक पहुंच गया है.

टीकाकरण, नए नियमों से पटरी पर लौट रहा है पर्यटन क्षेत्र : उद्योग निकाय

इंदौर, 24 सितंबर (भाषा) स्थानीय संयोगिता गंज अनाज मंडी में शुक्रवार को तुअर (अरहर) की दाल के भाव में 100 रुपये प्रति क्विंटल की कमी हुई। आज मूंग 100 रुपये प्रति क्विंटल महंगी बिकी।दलहन चना (कांटा) 5350 से 5400,मसूर 7350 से 7400,तुअर (अरहर) निमाड़ी 5700 से 6500, तुअर सफेद (महाराष्ट्र) 6600 से 6800, तुअर (कर्नाटक) 6900 से 7000,मूंग 6700 से 7000, मूंग हल्की 6100 से 6500,उड़द 7100 से 7300, उड़द नया 5000 से 6000, उड़द हल्की 5500 से 6500 रुपये प्रति क्विंटल।दालतुअर (अरहर) दाल सवा नंबर 8700 से 8800,तुअर दाल फूल 8900 से 9100, तुअर दाल बोल्ड 9200 से

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी